डीटीडीसी कोरिअर फ्रेंचाइजी कैसे लें – DTDC Franchise Kaise Le

Whatsapp Group Join
Telegram Channel Join

नमस्कार दोस्तों ! एक्सपर्ट कमाई (Expertkamai) ब्लॉग के Business Expert Kamai कैटेगरी में आपका स्वागत है. आज कि पोस्ट में भी हम आपको DTDC फ्रेंचाइजी बिजनिस से सम्बंधित एक शानदार जानकारी देने जा रहे हैं. ऑनलाइन बिजनेस के इस जमाने में किसी भी छोटे शहर से लेकर के बड़े शहर तक संदेश और प्रोडक्ट को डिलीवर करने के लिए कार्गो, कूरियर जैसी सुविधाओं का इस्तेमाल लोगों के द्वारा बड़े पैमाने पर किया जा रहा है। कूरियर सर्विस की वजह से ही हम घर बैठे किसी भी चीज को प्राप्त कर पाने में सफल हो रहे हैं।

हमारे आसपास ऐसे बहुत सारे कोरियर सर्विस देने वाली कंपनी के ऑफिस होते हैं, जहां पर हमारे द्वारा बुक किया गया आइटम आता है और वहां से डिलीवरी कर्मचारी के द्वारा आइटम हमारे घर तक पहुंच जाता है।

भारत की बेस्ट कोरियर कंपनी में डीडीडीसी की गिनती होती है जिसके द्वारा अपनी फ्रेंचाइजी लोगों को ऑफर की जा रही है। हम यहां पर इस आर्टिकल में आपको जानकारी देंगे कि “डीटीडीसी कोरिअर फ्रेंचाइजी क्या है” तथा “डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी कैसे लें” अथवा “डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी लेने के लिए कितना पैसा लगेगा।”

DTDC Franchise Kaise Le

Read Also :

डीटीडीसी कोरिअर फ्रेंचाइजी क्या है – Best Courier Franchise in India

डीटीडीसी कोरिअर डिलीवरी करने वाली एक कंपनी है, जो अपने बिजनेस का विस्तार करना चाहती है और इसीलिए वह फ्रेंचाइजी ऑफर कर रही है। जब आप डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी लेते हैं तो डीटीडीसी के द्वारा फ्रेंचाइजी सेट अप करने में आपकी पूरी सहायता की जाती है। यानी कि आप जो बिजनेस चालू करते हैं उस पर डीटीडीसी का ठप्पा लगा हुआ होता है जिसकी वजह से लोग आप की फ्रेंचाइजी पर भरोसा करते हैं।

डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी को डीटीडीसी की डीलरशिप भी कहा जाता है जिसके अंतर्गत डीटीडीसी कंपनी के द्वारा अपनी कोरियर डिलीवरी सर्विस के लिए फ्रेंचाइजी दी जाती है। इसके अंतर्गत कंपनी का लॉजिस्टिक आउटलेट ओपन होता है और उस लॉजिस्टिक आउटलेट को जो व्यक्ति ओपन करता है उसके ऊपर यह जिम्मेदारी होती है कि उसके फ्रेंचाइजी पर आने वाले कोरियर को समय पर कस्टमर के एड्रेस पर पहुंचाया जाए।

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने के बाद आपकी फ्रेंचाइजी में काम करने वाले डिलीवरी ब्वॉय के द्वारा जितना अधिक कस्टमर तक डिलीवरी की जाती है आपको उतना ही ज्यादा फायदा मिलता है। यानी कि आपको यहां पर हर डिलीवरी के पीछे डीटीडीसी के द्वारा निश्चित कमीशन दिया जाता है।

डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी कैसे लें | DTDC Courier Franchise Kaise Le

भारत के अलग-अलग इलाकों के लिए फ्रेंचाइजी लेने के लिए डीटीडीसी के द्वारा अलग-अलग ईमेल आईडी को जारी किया गया है। आप ईमेल आईडी पर फ्रेंचाइजी पाने से संबंधित बातचीत कर सकते हैं या फिर ईमेल आईडी पर ही फ्रेंचाइजी पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

आप जब ईमेल लिखते हैं, तो उसमें आपको अपना फोन नंबर और अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों को लिखना होता है, जिसके बाद कुछ ही दिनों में डीटीडीसी की तरफ से आपके फोन नंबर पर कॉल लगाया जाता है और उसके पश्चात आपके लोकल डीटीडीसी ऑफिसर से फ्रेंचाइजी हासिल करने में आपकी सहायता की की जाती है। नीचे हमारे द्वारा आपको उत्तर भारत, दक्षिण भारत, पश्चिम भारत और पूर्व भारत में फ्रेंचाइजी पाने के लिए कौनसी ईमेल आईडी पर संपर्क करना है, इसकी जानकारी दी गई है।

● उत्तर भारत- cm.north@dtdc.com
● दक्षिण भारत- cm.south@dtdc.com
● पश्चिम भारत- cm.west@dtdc.com
● पूर्व भारत- cm.east@dtdc.com

Website Link – https://www.dtdc.in/

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी के लिए इन्वेस्टमेंट – DTDC Franchise Cost in Hindi – DTDC Franchise Investment

यदि आप डीटीडीसी सिंगल यूनिट फ्रेंचाइजी पाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको इन्वेस्टमेंट के तौर पर ₹50000 से लेकर के ₹200000 का इन्वेस्टमेंट करने की आवश्यकता होगी। हम यहां पर आपको यह भी बताना चाहते हैं कि सिंगल यूनिटी फ्रेंचाइजी शुरू करने के लिए आपको जितने पैसे की आवश्यकता होगी वह पूरी तरह से लोकेशन पर डिपेंड करती है।

अगर आपने किसी ऐसी जगह पर फ्रेंचाइजी स्थापित करने के लिए आवेदन किया हुआ है, जिस जगह पर लोगों की भीड़ भाड़ ज्यादा होती है या फिर जो जगह हाई-फाई इलाके में मौजूद है तो आपका इन्वेस्टमेंट बढ़ सकता है।

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी के लिए स्पेस – Space for DTDC Franchise Business

डीटीडीसी के अंतर्गत कंपनी के द्वारा आपको जो आइटम मिलते हैं, उसका सही प्रकार से स्टोरेज हो सके, इसके लिए आपको एक बड़े से कमरे की आवश्यकता होती है, जहां पर सभी चीजों का स्टोरेज किया जाता है।

इसके अलावा बताना चाहते हैं कि कूरियर हैंडलिंग के लिए आपको तकरीबन 300 वर्ग फुट से लेकर के 450 वर्ग फुट की जगह की आवश्यकता होती है। यह जगह ऐसी लोकेशन पर होनी चाहिए जहां पर आसानी से लोग पहुंच सके और आप भी आसानी से कंपनी के द्वारा आने वाले आइटम को रिसीव कर सकें। प्रयास करना चाहिए कि आपका डीटीडीसी कोरियर ऑफिस मुख्य रोड के बगल में ही हो।

Read Also : MBA CHAIWALA Wala Franchise Kaise Le?

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने के लिए दस्तावेज – Documnets For DTDC Franchise Courier Business

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने के लिए आपको निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

● सिक्योरिटी डिपॉजिट और सेटअफ फीस के लिए डिमांड ड्राफ्ट
● आवेदक का पहचान पत्र
● ड्राइविंग लाइसेंस
● राशन कार्ड
● फोन बिल
● जमीन का एग्रीमेंट
● बैंक पासबुक की फोटो कॉपी
● बैंक स्टेटमेंट कॉपी
● फोन नंबर
● ईमेल आईडी
● अन्य दस्तावेज

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने के लिए कर्मचारी | Staff for DTDC Courier Franchise

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी शुरू करने के लिए आपको कुछ कर्मचारियों को भी नौकरी पर रखने की आवश्यकता होती है। जैसे कि अगर आपके द्वारा सिंगल यूनिट फ्रेंचाइजी शुरू की गई है तो आपको अपने अलावा 2 कर्मचारियों को नौकरी पर रखना होता है। अगर आपने मास्टर यूनिट फ्रेंचाइजी शुरू की है तो आपको अपने अलावा 3 कर्मचारियों को नौकरी पर रखना होता है, वही अगर आपने सुपर यूनिट फ्रेंचाइजी चालू की है, तो आपको अपने अलावा 4 या उससे अधिक कर्मचारियों को काम करने के लिए रखना होता है।

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने से लाभ | DTDC Franchise Profit | DTDC Franchise Benefits

बताना चाहते हैं कि, डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेने पर डीटीडीसी के द्वारा इन्वेस्टमेंट पर 20% तक रिटर्न आप को दिया जाता है। यानी कि अगर आप डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेते हैं, तो आपको अच्छा फायदा होता है। अगर आपके द्वारा किसी ऐसे इलाके में डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी चालू की गई है, जहां पर आसपास डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी नहीं है और आप बड़े एरिया को कवर करते हैं तो समझ लीजिए यह बिजनेस आपके लिए अच्छी कमाई वाला बिजनेस साबित हो सकता है।

हमारे देश के अधिकतर इलाकों में लोग ऑनलाइन बुकिंग करने लगे हैं। ऐसे में दूरदराज के इलाके में आप अपने डीटीडीसी ऑफिस के माध्यम से कोरियर सर्विस दे सकते हो या फिर शॉपिंग आइटम पहुंचा सकते हैं और अच्छा बेनिफिट प्राप्त कर सकते हैं। हम यहां यह भी बताना चाहते हैं कि आपकी फ्रेंचाइजी का जो टोटल टर्नओवर होगा उसका 10% रॉयल्टी फीस के तौर पर डीटीडीसी को देना होगा।

फ्रेंचाइजी के लिए डीटीडीसी की द्वारा दी जाने वाली सुविधा

डीटीडीसी के द्वारा फ्रेंचाइजी के लिए आपसे जो पैसे लिया जाता है उसमें से तकरीबन 5 परसेंट पैसा डीटीडीसी के द्वारा मार्केटिंग करने के लिए खर्च किया जाता है। आप जब फ्रेंचाइजी लेते हैं तो आपकी फ्रेंचाइजी में काम करने वाले वर्कर को ट्रेनिंग देने का काम भी डीटीडीसी के कर्मचारियों के द्वारा किया जाता है।

इसके साथ ही साथ सॉफ्टवेयर, कर्मचारियों की ड्रेस और इंटीरियर इत्यादि के लिए भी डीटीडीसी की ओर से पूरा सपोर्ट आपको मिलता है। जब आप डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी पाने के लिए आवेदन करते हैं तो सभी प्रक्रिया पूरा होने में 15 दिनों का समय लग जाता है अर्थात आवेदन करने के कुल 15 दिन के पश्चात आप फ्रेंचाइजी ओपन कर सकते हैं।

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी हेल्पलाइन नंबर – DTDC Franchise Contact Number – DTDC Customer Care Number

नीचे हम आपको इंडिया के टॉप शहरों में मौजूद डीटीडीसी फ्रेंचाइजी हेल्पलाइन नंबर दे रहे हैं। अगर आप अपने एरिया की डीटीडीसी हेल्पलाइन नंबर पाना चाहते हैं तो इसके लिए आप इंटरनेट पर जा सकते हैं और अंग्रेजी लैंग्वेज में डीटीडीसी फ्रेंचाइजी हेल्पलाइन नंबर नियर मी लिख कर सर्च कर सकते हैं। इसके बाद अलग-अलग वेबसाइट पर आपको अपने एरिया में मौजूद डीटीडीसी का हेल्पलाइन नंबर मिल जाता है।

● अहमदाबाद- 7305770577
● बेंगलुरु- 7305770577
● चंडीगढ़- 7305770577
● चेन्नई- 7305770577
● दिल्ली- 7305770577
● गाजियाबाद- 7305770577
● हैदराबाद- 7305770577
● जयपुर– 7305770577
● कोलकाता- 7305770577
● मुंबई- 7305770577
● पुणे- 7305770577

DTDC Logistics Franchise Expansion Location

नीचे हमारे द्वारा आपको उन राज्यों के नाम दिए गए हैं जहां पर अलग-अलग जिलों में अभी भी डीटीडीसी के द्वारा फ्रेंचाइजी का विस्तार किया जाना है। इसलिए अगर आप ऐसे राज्य में रहते हैं तो आप यह चेक कर सकते हैं कि आपके आसपास डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी है या नहीं। अगर नहीं है तो आप डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी ओपन करके बिजनेस कर सकते हैं।

● उत्तर भारत- दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, पंजाब और उत्तरांचल
● दक्षिण भारत- केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश
● पूर्व भारत- असम, मेघालय, मिजोरम, त्रिपुरा, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर
● पश्चिम भारत- महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, गोवा
● मध्य भारत- छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड
● केंद्र शासित प्रदेश- पांडिचेरी, चंडीगढ़, लक्ष्यदीप, दमन और दीव, जम्मू और कश्मीर

डीटीडीसी फ्रेंचाइजी कितना कमा सकती है | DTDC Franchise Monthly Income

एरिया के हिसाब से और आए हुए प्रोडक्ट के हिसाब से डीटीडीसी फ्रेंचाइजी की कमाई तय होती है। जैसे कि अगर आपने डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी चालू कर ली है और यह फ्रेंचाइजी किसी ऐसी जगह पर चालू की गई है, जहां पर आपको काफी अधिक आर्डर डिलीवर करने के लिए आ रहे हैं, तो आपकी महीने की कमाई 50000 से लेकर के 60000 या फिर एक लाख के भी पार जा सकती है।

हालांकि वास्तविक कमाई के बारे में आपको तभी पता चलेगा, जब आप डीटीडीसी फ्रेंचाइजी को चालू करेंगे और फ्रेंचाइजी चालू किए हुए एक महीना व्यतीत हो जाएगा और जब आपको पहली पेमेंट डीटीडीसी के द्वारा दी जाएगी।

कूरियर फ्रेंचाइजी में कितना लाभ है | Courier Franchise Profit

आपने कुरियर फ्रेंचाइजी चालू कर ली है, तो बताना चाहते हैं कि कुरियर फ्रेंचाइजी की रोजाना की कमाई डिलीवर किए गए पार्सल की जितनी संख्या होती है उसी पर डिपेंड होती है। जैसे कि Delhivery Franchise का हर महीने का फायदा कभी-कभी 30,000 होता है तो कभी-कभी 40000 भी हो सकता है, वही डीटीडीसी फ्रेंचाइजी में भी यही नियम लागू होता है कि जितना अधिक रोजाना पार्सल डिलीवर किया जाएगा, उतना ही ज्यादा फायदा मिलेगा।

कूरियर कंपनी कैसे खोले – Courier Company Kaise Khole

कोरियर कंपनी खोलने के लिए आपके पास टोटल दो विकल्प होते हैं। पहला यह कि आप चाहें तो अपने नाम पर कूरियर कंपनी की स्थापना करें और दूसरा ऑप्शन यह होता है कि आप पहले से ही किसी लोकप्रिय कूरियर सर्विस कंपनी की फ्रेंचाइजी को प्राप्त कर ले और अपने बिजनेस की शुरुआत करें।

फ्रेंचाइजी पाने के लिए आप जिस कोरियर कंपनी की फ्रेंचाइजी पाना चाहते हैं, उसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होता है, वहां पर आपको आवेदन के लिए लिंक मिल जाता है। अगर लिंक नहीं है तो आप उनके हेल्पलाइन नंबर या फिर ईमेल आईडी पर संपर्क कर सकते हैं। अगर आप खुद की कोरियर कंपनी खोलना चाहते हैं तो इसके लिए एक बड़ा इन्वेस्टमेंट लगता है साथ ही एक सिस्टमैटिक प्लान के तहत आपको आगे बढ़ना होता है।

डीटीडीसी का मालिक कौन है | DTDC Franchise Owner

डीटीडीसी के मालिक का नाम सुभाष चक्रवर्ती है। डीटीडीसी का पूरा मतलब Desk to Desk Courier & Cargo होता है, जो कि भारतीय कोरियर डिलीवरी सर्विस कंपनी है, जिसका हेड क्वार्टर कर्नाटक के बेंगलुरु शहर में मौजूद है। बताना चाहते हैं कि डीटीडीसी के द्वारा हर महीने 12 मिलियन से ज्यादा शिपमेंट को हैंडल किया जाता है। डीटीडीसी की स्थापना साल 1990 में की गई थी। वर्तमान में डीटीडीसी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या 13000 से ज्यादा है।

FAQ- DTDC Courier Franchise Kaise Le

Q- डीटीडीसी का फुल फॉर्म क्या है? | DTDC full form in Hindi

ANS- डीटीडीसी का फुल फॉर्म Desk to Desk Courier & Cargo है।

Q- डीटीडीसी फ्रेंचाइजी के लिए आवेदन कैसे करें?

ANS- डीटीडीसी की फ्रेंचाइजी पाने के लिए आवेदन करने हेतु हमने आपको ईमेल आईडी आर्टिकल में दी हुई है।

Q- मैं अपने डीटीडीसी कूरियर का दावा कैसे करूं?

ANS- आपको कोरियर ट्रेक नंबर मिलता है जिसके माध्यम से आप डीटीडीसी कोरियर का दावा कर सकते हैं।

Q- क्या डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लाभदायक है?

ANS- जी हां! डीटीडीसी फ्रेंचाइजी लेना फायदेमंद है।

Q- डीटीडीसी का हेड क्वार्टर कहां है?

ANS- डीटीडीसी का हेड क्वार्टर अर्थात मुख्यालय कर्नाटक के बेंगलुरु में मौजूद है।

Q. DTDC courier kitne din me aata hai ?
Ans.
DTDC कोरियर पहुंचने में लगभग 2 से 7 दिन का समय लगता है. यह स्थान कि दूरी पर निर्भर करता है. जितनी अधिक दूरी उतना अधिक समय.

यह भी पढ़ें :

Whatsapp Group Join
Telegram Channel Join

3 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *